Saturday, October 24, 2015

मेरा भारत महान

जरूरत से ज्यादा विकसित
देश के वासी ने मुझसे पूछा-
अगर आपका भारत महान है
तब संसार के
इतने सारे आविष्कारों में
उसका क्या योगदान है?

मैंने कहा-यार!
संसार की पहली
फायर प्रूफ लेडी
इण्डिया में पैदा हुई थी
नाम था- होलिका
आग में जलती ही नहीं थी
इसलिए उस जमाने में
फायर ब्रिगेड चलती ही नहीं थी

यह तो हिरण्यकश्यप ने
प्रहलाद को मारने का
षड्यंत्र किया
इसलिए भगवान ने
उसकी बॉडी में
शॉर्ट सर्किट कर दिया
भगवान की
तरकीब चल गई
होलिका जल गई

संसार की पहली
वाटर प्रूफ बिल्डिंग
इण्डिया में बनी
सागर तल में
जो थी विष्णु भगवान का
सरकारी रेजीडेन्स
बिल्डिंग का नाम था-
शेषनाग!
शेषनाग समुद्र में चले गए
विशेष नाग
धरती पर ही रह गए
हम उन्हीं के हाथों छले गए

संसार के पहले पत्रकार
नारदजी हुए
किसी भी सत्ता-व्यवस्था से
नहीं डरते थे
तीनों लोकों की सनसनीखेज
रिपोर्टिंग करते थे

सृष्टि के प्रथम कमेन्ट्रेटर
संजय हुए
जिन्होंने नया इतिहास बनाया
महाभारत के युद्ध का
आँखों देखा हाल
अंधे धृतराष्ट्र को
टी.वी. पर देख कर
उन्होंने ही सुनाया

दुनिया में
दादागीरी का आविष्कार
भारत ने ही तो किया यार!
अति प्राचीनकाल में
भारत के शनीचर भगवान ने
तीनों लोकों में
इतना आतंक मचाया
कि हफ्ता वसूली का रिवाज
उनके भक्तों ने ही चलाया
आज भी हर शनिवार को
भक्तजन आते हैं
फोटो दिखाते हैं
हफ्ता ले जाते हैं

ये सुनकर वह हड़बड़ाया
गुस्से में बड़बड़ाया
फालतू बात मत बनाओ
सर्जरी में भारत ने कोई
आविष्कार किया हो तो बताओ
मैं बोला-दोस्त!
संसार को तो
सर्जरी का कॉन्सेप्ट ही
इण्डिया ने दिया था
तू ही बता
गणेशजी का ऑपरेशन
क्या तेरे बाप ने किया था?

तुझे नहीं होगा ध्यान
पहले सर्जन तो थे
शंकर भगवान
सारी दुनिया हो गई फेन
क्या खूब सर्जरी की
हाथी का माथा
और आदमी का ब्रेन
ब्रेन भी सबसे तेज
इसीलिए आज तक है उनका
एवरग्रीन क्रेज

मेरी बात सुन कर वह भन्नाया
तुरन्त वहाँ से
चलता-फिरता नजर आया
तब से उसको ही नहीं
सारी दुनिया को ध्यान है
दुनिया में मुल्क
चाहे जितने भी हों
पर उन सब में
मेरा भारत महान है!

-सुरेन्द्र दुबे (जयपुर)
सम्पर्क : 0141-2757575
मोबाइल : 98290-70330
ईमेल : kavidube@gmail.com

0 comments:

Post a Comment